Forgot your password?

Enter the email address for your account and we'll send you a verification to reset your password.

Your email address
Your new password
Cancel
एक बड़ी मशहूर कहावत है कि सक्सेस के पीछे किसी न किसी औरत का हाथ होता है। शायद इस कहावत के पीछे कहीं न कहीं ये एक कड़वा सच भी छिपा था कि औरत तो सक्सेस के लिए होती ही नहीं है। लेकिन अब धारणाएँ बदल रही है। औरसते भी सक्सेस हो रही हैं और इसी के साथ सक्सेस के पीछे औरत नहीं बल्कि सक्सेस के आगे औरतें आ रही हैं। इससे इतर सक्सेस के पीछे आदमी का हाथ भी हो सकता है इस बात का हमें अक्सर कोई न कोई उदाहरण देखने को मिलते भी हैं। लेकिन इस स्पेस के लिए आदमियों की उदारता वाकई ज़रूरी थी। आइए इसका एक उदाहरण देखें।
इंडोनेशिया के जकार्ता-पालेमबर्ग में चल रहे 18वें एशियाई खेलों के छठे दिन भारत की अनुभवी निशानेबाज हीना सिद्धू ने ब्रॉन्ज मेडल जीता है। इसी के साथ भारत कुल 23 मेडल्स के साथ पदक तालिका में सातवें स्थान पर बरकरार है। भारत के खाते में छह स्वर्ण पदकों के अलावा चार सिल्वर और 13 ब्रॉन्ज मेडल भी आ चुके हैं।
बता दें कि हीना सिद्धू के कोच उनके पति रौनक पंडित ही हैं। दोनों की लव स्टोरी खेल जगत में काफी चर्चित हैं। हीना अपनी हर बड़ी उपलब्धि का श्रेय अपने पति को ही देती आई हैं। हीना और रौनक के बीच जान-पहचान 2012 लंदन ओलंपिक से पहले हुई थी। हीना को जब पता चला कि वो लंदन ओलंपिक में हिस्सा लेने वाली हैं, तो उनकी खुशी का ठिकाना नहीं था, लेकिन उनके पास तैयारी के लिए महज चार महीने का समय बचा था। हिना ने जब तैयारी शुरू की तो शूटिंग रेंज में रौनक भी हुआ करते थे, यहां से दोनों की जान-पहचान शुरू हुई। रौनक अपना खेल भूलकर हीना को ओलंपिक के लिए तैयार करने में जुट गए।
अब हीना अपना पूरा ध्यान टोक्यो गेम्स 2020 पर लगाना चाहती हैं। जल्द ही दोनों को एहसास हो गया कि वो एक दूसरे के बिना नहीं रह सकते, बाद में दोनों ने शादी करने का फैसला ले ही लिया। अब दोनों अपनी जिंदगी की हर हार-जीत साथ में ही सेलिब्रेट करते हैं।
ऐसी रोचक और अनोखी न्यूज़ स्टोरीज़ के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करें Lop Scoop App, वो भी फ़्री में और कमाएँ ढेरों कैश आसानी से
YOUR REACTION
  • 0
  • 0
  • 1
  • 0
  • 0
  • 0

Add you Response

  • Please add your comment.