Forgot your password?

Enter the email address for your account and we'll send you a verification to reset your password.

Your email address
Your new password
Cancel
हलचल देखकर लगता है कि भारत का हर यूथ इंटरनेट से जुड़ा है, लेकिन सच्चाई तो इससे एकदम जुदा है। डिजिटल इंडिया को लेकर जोर आजमाइश के बावजूद 2017 में देश में केवल एक चौथाई लोगों ने इंटरनेट का प्रयोग किया। प्यू रिसर्च सेंटर के एक नए अध्ययन में इस बात का खुलासा हुआ। अध्ययन में पता चला कि भारत दुनिया में सबसे कम इंटरनेट उपयोग करने वाले देशों में से एक है।
37 देशों की सूची में दक्षिण कोरिया पहले स्थान पर है। दक्षिण कोरिया में 96 फीसदी वयस्कों ने इंटरनेट का प्रयोग किया।
मंगलवार को जारी नतीजों के मुताबिक, दुनिया में ज्यादातर देश इंटरनेट का प्रयोग करते हैं, जबकि उप सहारा अफ्रीका व भारत के पास भी ऊंची दर हासिल करने के लिए बहुत कुछ है।
भारत में वयस्कों के पास स्मार्टफोन रखने की दर 2013 में 12 फीसदी थी जो 2017 में बढ़कर 22 फीसदी हो गई, जबकि इस अवधि के दौरान सोशल मीडिया का प्रयोग आठ से बढ़कर 20 फीसदी तक पहुंच गया।
इसका मतलब, भारत में 78 फीसदी वयस्कों के पास स्मार्टफोन नहीं है और देश की अधिकांश 80 फीसदी आबादी को फेसबुक और ट्विटर की कोई जानकारी नहीं है।
इंटरनेट की पहुंच दर इंटरनेट उपयोग या फिर स्मार्टफोन रखने वाले लोगों द्वारा मापी जाती है, जो उत्तरी अमेरिका और यूरोप के अधिकांश हिस्सों के साथ-साथ एशिया-प्रशांत के कुछ हिस्सों में भी अधिक रहती है।
वहीं ऑस्ट्रेलिया, नीदरलैंड, स्वीडन, कनाडा, अमेरिका, इजराइल, ब्रिटेन, जर्मनी, फ्रांस और स्पेन में लगभग नौ से 10 फीसदी लोग ही इंटरनेट का उपयोग करते हैं।
क्षेत्रीय रूप से उप-सहारा अफ्रीका दुनिया के सबसे कम इंटरनेट उपयोगकर्ताओं के मामले में से एक है।
YOUR REACTION
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0

Add you Response

  • Please add your comment.